- 32%

Haryana Civil Service (HCS) Notes – HPSC Prelims Study Material +Current Affairs – Infusion Notes – 5 Books

Add your review

2599 

(-32%)

Infusion Notes की Expert Team आपको इस पैकेज में

  • हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, एवं उत्तर प्रदेश  की प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थानों की BEST FACULTIES द्वारा तैयार किए गए Handwritten Notes.
  • प्रैक्टिस के लिए Daily क्विज उपलब्ध करवाएगी।
  • डेली करंट अफेयर्स उपलब्ध करवाएगी।
  • HPSC – HCS  प्रारंभिक परीक्षा का कम्पलीट सिलेबस हमने 5 भागों में तैयार किया है।
  • अब Infusion Notes के साथ करिए हरियाणा सिविल सर्विस की कम्पलीट तैयारी और पाइए सिलेक्शन इस Complete Study Material पैकेज के साथ।
  • HPSC Pre Notes  के आर्डर या किसी भी Query के लिए कॉल करें 9887809083 या इस लिंक (https://wa.link/nkgsez) से WhatsApp करें।
Categories: ,

HCS (Haryana Civil Service) Preliminary Handwritten Notes- Dear Aspirants, Infusion Notes की Expert team के द्वारा हरियाणा लोक सेवा आयोग (HCS) परीक्षा की Complete तैयारी के लिए एक 5 books का Handwritten study Material तैयार किया है 

यह  Handwritten study Material Haryana Civil Service की प्रारंभिक परीक्षा में सफलता पाने के लिए आपकी मदद किस प्रकार करेंगे?

  • नोट्स को काफी सरल भाषा में तैयार किया गया है अर्थात इनको खुद से बिना कोचिंग की सहायता के आसानी से समझा जा सकता है।
  • ये Notes गत वर्षों के पेपरों  को विश्लेषण करके और अनुभवी शिक्षकों के सहयोग से तैयार किए गए हैं ।
  • नोट्स में केवल महत्वपूर्ण बिन्दुओं को ही लिया गया है जो HCS (Haryana Civil Service) Prelims रीक्षा के लिए महत्वपूर्ण हैं ।
  • ये Notes पूरी तरीके से आधिकारिक (ऑफिसियल) सिलेबस पर आधारित है।
  • Notesके बाहर से प्रश्न पूछे जाने की संभावना बहुत कम है।
  • नोट्स में प्रयोग की गयी भाषा सरल और स्पष्ट है, इसलिए इन नोट्स को आसानी से समझा और याद किया जा सकता है ।
  • नोट्स में किसी भी टॉपिक को सरल और कम शब्दों में समझाया गया है जिससे तैयारी करने वाले स्टूडेंट्स के समय की बचत होगी और उन्हें किसी भी टॉपिक को बार-बार दोहराने का समय भी मिलेगा तथा इनको बहुत ही कम समय में पढ़ा जा सकता है
  •  हमनें इन नोट्स में TRICKS  डाली हैं , जिससे फैक्ट्स को आसानी से याद किया जा सके।
  • Notes के साथ  Infusion Notes की ओर से प्रतिदिन और मासिक मिलने वाली करंट अफेयर्स आपकी पढ़ाई में काफी मदद करेगी और इसमें से परीक्षा में अधिकांश प्रश्न पूछे जाने की सम्भावना है/

Infusion Notes का ही चयन क्यों?:

  • क्योंकि अब तक Infusion Notes ने विभिन्न परीक्षाओं में विभिन्न छात्रों का सिलेक्शन (Selection) करवाया है जिसका विवरण Sample में और नीचे दिया गया है/
  • Infusion Notes की Team Expert सदस्यों से मिलकर बनी है और यह एक लीडिंग एजुकेशनल कंपनी है जो विशेष रूप से विभिन्न राज्य और केन्द्र द्वारा आयोजित  सरकारी प्रतियोगी परीक्षाओं जैसेः यूपीएससी (UPSC) आईएएस (IAS) , आरएएस (RAS), आरपीएससी (RPSC) एसआई (SI), बिहार पीसीएस (BPSC), एमपीपीएससी (MPPSC), पीसीएस (PCS), हरियाणा पीसीएस (HPCS), एसएससी (SCC), आईबी (IB), यूपी पुलिस कांस्टेबल और बैंक (BANK) आदि सरकारी परीक्षाओं के लिए उच्च गुणवत्ता (High Quality) वाली हस्तलिखित अध्ययन सामग्री (Hand Written Study Material) प्रदान करती है।
  • Infusion Notes का उद्देश्य विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों, विशेष रूप से वह छात्र जो महंगी कोचिंग और पढ़ाई का खर्चा नहीं उठा सकते उनको Affordable Price  में हैंडरिटेन नोट्स प्रोवाइड कराना, उनकी परीक्षाओं की तैयारी को बेहतर बनाने, उनको सिलेक्शन दिलाने और उनके सपने साकार करने में उनकी मदद करना है।

HPSC प्रारंभिक भर्ती परीक्षा का Complete Handwritten नोट्स के sample यहाँ से डाउनलोड करें – 

भाग – 1    हरियाणा का सामान्य ज्ञान (GK) + भारतीय राजव्यवस्था

भाग – 2    भारत का इतिहास और कला एवं संस्कृति

भाग – 3    भारत और विश्व का भूगोल + अर्थव्यवस्था

भाग – 4    सामान्य विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

भाग – 5    CSAT (Aptitude Test )

इस परीक्षा में सिलेक्शन लेने के लिए कैसे करें पढ़ाई ? (How to Study), Time Table – 

सिलेबस को समझें (Understand the Syllabus):

  • किसी भी राज्य की सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले अभ्यर्थियों को सलाह दी जाती है कि वे उस परीक्षा के सिलेबस को ठीक से अध्ययन कर लें, और इसके बाद ही  अपनी तैयारी की योजना बनाएं।
  • किसी भी परीक्षा की तैयारी करने से पहले उस परीक्षा के सिलेबस को ठीक से समझ लेना अति आवश्यक होता है ।  अक्सर ऐसा देखा गया है की परीक्षा की तैयारी करने वाले अभ्यर्थी बिना सिलेबस को ठीक से समझे तैयारी करने लग जाते हैं और 10-12 घंटे लगातार पढ़ाई करने के बावजूद भी परीक्षा में सफलता नहीं प्राप्त कर पाते इसका कारण यह है कि उन्होंने मेहनत तो की लेकिन सिलेबस को ठीक से समझा ही नहीं
  • उन्होंने पढ़ा तो होता है लेकिन उन्होंने ठीक से सिलेबस को समझा ही नहीं होता और वह इस वजह से वह भी पढ़ लेते हैं जो उनकी परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण नहीं होता और जो परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण होता है उस का अच्छे से अभ्यास नही कर पाते
  • इसलिए स्मार्ट तरीके से पढ़ाई करने का तरीका होता है कि पहले आप सिलेबस को अच्छे से समझें और केवल वहीं पड़े जो आपकी परीक्षा के लिए आवश्यक है इस तरह आप स्मार्ट तरीके से किसी भी परीक्षा में सफलता हासिल कर सकते हैं
  • HPSC परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे पहले आपको परीक्षा सिलेबस को पूरी जानकारी के साथ अच्छे से समझें
  • HPSC सिलेबस के विभिन्न विषयों से पूछे गए प्रश्नों के प्रकार का आकलन करें
  • उन महत्वपूर्ण विषयों की पहचान करना जिनसे परीक्षा में प्रश्न पूछे जाने की सबसे अधिक संभावना है
  • पूरे सिलेबस को अच्छी तरह से कवर करें। सभी वर्गों से पाठ्यक्रम के बारे में दृढ़ विचार रखने से आपको परीक्षा के संबंधित चरणों में अच्छा करने में मदद मिलेगी।
    नोट –  उपर्युक्त दिए हुए सभी बिन्दुओं को Infusion Notes की team ने इन नोट्स में शामिल कर लिया है, इसलिए छात्रों को अलग से मेहनत करने की कोई जरूरत नही है सिर्फ इन नोट्स को मेहनत से पढने की जरूरत है/ 

समय सारणी (Time table):

  • किसी भी परीक्षा की तैयारी करने के लिए आवश्यक है कि आप प्रॉपर टाइम टेबल बनाएं क्योंकि बिना टाइम टेबल के आपको नहीं पता रहता कि आपको किस सब्जेक्ट को कितना टाइम देना चाहिए और आप अपना समय किसी सब्जेक्ट में ज्यादा दे देते है और किसी सब्जेक्ट में कम और किसी सब्जेक्ट में दे ही नही पाते
  • एक प्रॉपर टाइम टेबल बनाएं की किस सब्जेक्ट को आपको कब पढ़ना है और कितने घंटे पढ़ना है
  • जो आपका सब्जेक्ट सबसे कमजोर है उसको ज्यादा टाइम दें और जिस सब्जेक्ट में आप अच्छे हैं उसके लिए कम टाइम देकर आप प्रॉपर टाइम मैनेजमेंट बनाएं और हर सब्जेक्ट को प्रॉपर टाइम दे
  • जिस सब्जेक्ट में आप अच्छे हैं उसको विना नजरअंदाज किए डेली रिवीजन करे कभी-कभी विद्यार्थी ओवर कॉन्फिडेंस हो जाते हैं और उनको लगता है कि इस सब्जेक्ट में तो अच्छे हैं तो इसको पढ़ने की जरूरत ही नहीं है और परीक्षा के दौरान उस विषय में अच्छा होने के वावजूद अच्छी परफॉर्मेंस नही दे पाते
  • टाइम टेबल में सभी विषयों को शामिल करें और संशोधन और प्रैक्टिस के लिए पर्याप्त समय दिया जाए। ध्यान और प्रेरणा बनाए रखने के लिए छुट्टियों को शामिल करें ।
  • HPSC Exam की तैयारी के लिए एक समय सारणी बनाएं और उस समय सारणी के अनुसार अध्ययन करें
  • जो पढ़ा है उसे रोज रिवाइज करें और हफ्ते में एक बार जो पढ़ा है उसका टेस्ट लेंकर उसे पूरा करने की कोशिश करें.
  • उन महत्वपूर्ण विषयों का रिवीजन करें जिन्हें आपने पहले ही पढ़ लिया है।

पिछले साल के पेपर्स का प्रैक्टिस (Practice Previous Year Papers):

  • HPSC  के Previous Year Questions पेपर जो पिछले कुछ वर्षों में आयोजित हुए हैं उनकी प्रैक्टिस करें
  • HPSC  भर्ती परीक्षा के Question पेपर को सॉल्व करने से आपको अपनी तैयारी का अनुमान लगाने और आपको आपके कमजोर टॉपिक का पता लगाने में आसानी होगी।
  • अपेक्षित प्रश्नों का अभ्यास करना, जिससे समस्या सुलझाने की गति और कौशल में सुधार हो
  • पिछले साल के पेपर्स को सॉल्व करने से पहले HPSC  Exam Syllabus को अच्छे से देखे लें  तभी पेपर को सॉल्व करने की कोशिश करे.
  • वास्तविक परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए उम्मीदवारों के लिए हरियाणा पीसीएस(HPCS) के पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों को हल करना महत्वपूर्ण है। पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों को हल करके, उम्मीदवार परीक्षा संरचना, परीक्षा कठिनाई स्तर और प्रश्नों के वितरण का विश्लेषण कर सकते है। वे समय प्रबंधन में भी मदद करते हैं और आत्मविश्वास बढ़ाते है।नोट – HPSC HCS के पिछले वर्षों के पेपर आपको हमारे नोट्स खरीदने के साथ free में pdf में मिल जायेंगे /

करंट अफेयर्स (Current Affairs):

  • रोजाना करंट अफेयर्स पढ़े, विशेषकर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय घटनाओं से संबंधित, क्योंकि ये परीक्षा के एक महत्वपूर्ण हिस्से होते हैं।
  • करंट अफेयर्स पर नियमित रूप से नज़र रखें और समाचार पत्र, पत्रिकाएँ और ऑनलाइन स्रोत पढ़ें।
  • Infusion Notes से नोट्स खरीदने के बाद Daily करंट अफेयर्स आपको मुफ्त में पीडीएफ में उपलब्ध करवा दी  जाएगी 

नोट – HCS (Haryana Civil Service) Preliminary परीक्षा 2023-24 के बारे में विस्तृत जानकारी –
(Vacancy,परीक्षा पैटर्न, Syllabus, चयन प्रक्रियायोग्यता, Negative Marking, पिछले वर्ष के पेपर, Cut off, जानकारी)

परीक्षा पैटर्न
सभी अन्य राज्य सेवा परीक्षाओं की तरह हरियाणा सिविल सेवा परीक्षा में भी तीन चरण होते हैं:

  • प्रारंभिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • व्यक्तिगत साक्षात्कार ।

प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले लोग मुख्य परीक्षा देंगे । अंतिम चयन उम्मीदवारों को साक्षात्कार दौर के लिए बुलाने के बाद किया जाता है ।

प्रारंभिक परीक्षा

  • प्रारंभिक परीक्षा केवल क्वालीफाइंग प्रकृति की होती है और इसमें दो पेपर होते हैं।
पेपर विषय कुल प्रश्न कुल अंक समय
I सामान्य अध्ययन 100 100 2 घंटे
II CSAT 100 100 2 घंटे
  • प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले लोग मुख्य परीक्षा देंगे । अंतिम चयन उम्मीदवारों को साक्षात्कार दौर के लिए बुलाने के बाद किया जाता है।
  • प्रारंभिक परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होगी और प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 25 अंक की कटौती की जाएगी
  • प्रारंभिक परीक्षा में दोनों प्रश्न पत्र वस्तुनिष्ठ प्रकार के (बहुविकल्पी)  होंगे ।
  • प्रत्येक पेपर दो घंटे की अवधि का होगा ।
  • दोनों प्रश्न पत्र द्विभाषी होंगे अर्थात् दोनों प्रश्न पत्र अंग्रेजी और हिंदी में होंगे ।
  • प्रत्येक गलत उत्तर के लिए एक चौथाई (25) अंक काटा जाएगा ।
  • पेपर- II यानी सिविल सर्विसेज एप्टीट्यूड टेस्ट क्वालिफाइंग पेपर होगा । इसमें न्यूनतम 33% अंक अर्जित करने होंगे ।
  • प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम केवल पेपर- I में प्राप्त अंकों के आधार पर होगा, बशर्ते कि उम्मीदवार ने सिविल सेवा एप्टीट्यूड टेस्ट (पेपर- II) में 33% अंक प्राप्त किए हों ।
  • प्रारंभिक परीक्षा में प्राप्त अंकों को अंतिम चयन के लिए नहीं गिना जाएगा ।

मुख्य परीक्षा

  • प्रीलिम्स एग्जाम पास करने वालों को मेन एग्जाम में बुलाया जाएगा ।
  • मुख्य परीक्षा में कुल चार पेपर हल करने होते हैं।
  • मेन एग्जाम में इंग्लिश (अंग्रेजी निबंध सहित) 100 अंकों, हिंदी (हिंदी निबंध सहित) 100 अंकों, – सामान्य अध्ययन के 200 और वैकल्पिक विषय के 200 अंकों का पेपर होगा ।
  • इसके बाद 75 अंकों का पर्सनालिटी टेस्ट होगा ।
पेपर विषय अंक
पेपर I अंग्रेजी (निबंध सहित) 100 अंक
पेपर II हिंदी (निबंध सहित- देवनागरी लिपि में शामिल है) 100 अंक
पेपर III सामान्य अध्ययन 200 अंक
पेपर IV वैकल्पिक विषय 200 अंक

सिलेबस (Syllabus):
प्रारंभिक परीक्षा का सिलेबस

  1. सामान्य अध्ययन:
  • सामान्य विज्ञान ।
  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाएं ।
  • भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन ।
  • भारतीय और विश्व भूगोल ।
  • भारतीय संस्कृति, भारतीय राजनीति और भारतीय अर्थव्यवस्था ।
  • सामान्य मानसिक क्षमता ।
  • हरियाणा- अर्थव्यवस्था और लोग । हरियाणा की सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक संस्थाएं और भाषा ।
  • सामान्य विज्ञान के प्रश्नों में विज्ञान की सामान्य समझ अपेक्षित होगी, जो प्रतिदिन के अवलोकन और अनुभव, जैसा कि एक सुशिक्षित व्यक्ति से अपेक्षा की जा सकती है जिसने विशेष अध्ययन नहीं किया है, पर आधारित होगी ।
  • वर्तमान घटनाओं में, महत्वपूर्ण राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय ज्ञान की घटनाओं का परीक्षण किया जाएगा।
  • भारत के इतिहास में, इसके सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक पहलू में विषय की व्यापक सामान्य समझ पर जोर दिया जाएगा ।
  • भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन पर प्रश्न उन्नीसवीं सदी का पुनरुत्थान, राष्ट्रवाद का विकास और स्वतंत्रता की प्राप्ति की प्रकृति और चरित्र से संबंधित होंगे ।
  • भूगोल में, अधिकतर प्रश्न भारत के भूगोल से होगें ।
  • भारत के भूगोल पर प्रश्न भौतिक, सामाजिक और आर्थिक, भारतीय कृषि और प्राकृतिक संसाधनों की मुख्य विशेषताओं सहित देश का भूगोल से संबंधित होंगे ।
  • भारतीय राजनीति और अर्थव्यवस्था पर प्रश्न देश की राजनीतिक प्रणाली और भारत के संविधान, भारत में पंचायती राज, सामाजिक व्यवस्था और आर्थिक विकास पर ज्ञान का परीक्षण करेगी ।
  • सामान्य मानसिक क्षमता पर, तर्क और विश्लेषणात्मक क्षमताओं पर परीक्षण किया जाएगा ।
  1. सिविल सेवा एप्टीट्यूड टेस्ट
  • समझ (comprehension) ।
  • संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल ।
  • तर्क शक्ति और विश्लेषणात्मक क्षमता ।
  • निर्णय लेना और समस्या समाधान करना ।
  • सामान्य मानसिक क्षमता ।
  • बुनियादी संख्या (संख्या और उनके संबंध, परिमाण का क्रम, आदि-कक्षा X स्तर), डेटा

व्याख्या (चार्ट, ग्राफ, टेबल, तिथि पर्याप्तता आदि – दसवीं कक्षा स्तर) ।

मुख्य परीक्षा का सिलेबस

पेपर विषय अंक
पेपर I अंग्रेजी (निबंध सहित) 100 अंक
पेपर II हिंदी (निबंध सहित- देवनागरी लिपि में शामिल है) 100 अंक
पेपर III सामान्य अध्ययन 200 अंक
पेपर IV वैकल्पिक विषय 200 अंक
  • मुख्य लिखित परीक्षा में पारंपरिक / निबंध प्रकार के चार पेपर शामिल होंगे जो प्रत्येक तीन घंटे की अवधि का होगा ।
  • उम्मीदवार अपने उत्तर भाषा या साहित्य पत्रों को छोड़कर हिंदी या अंग्रेजी में लिख सकते हैं ।
  • सामान्य ज्ञान और वैकल्पिक विषयों के प्रश्नपत्र जब तक अन्यथा निर्देशित न हों, उम्मीदवार द्वारा दिए गए विकल्प के आधार पर हिंदी भाषा या अंग्रेजी भाषा में उत्तर दिए जाएंगे, लेकिन किसी भी उम्मीदवार को किसी एक पेपर का उत्तर आंशिक रूप से हिंदी या आंशिक रूप से अंग्रेजी में देने की अनुमति नहीं दी जाएगी । उम्मीदवारों को किसी अन्य माध्यम से इन प्रश्नपत्रों का उत्तर देने के विकल्प की अनुमति नहीं दी जाएगी ।
  • किसी भी उम्मीदवार को मौखिक/व्यक्तित्व परीक्षण के लिए तब तक नहीं बुलाया जाएगा जब तक कि वह कुल योग में कम से कम पैंतालीस प्रतिशत (45%) अंक प्राप्त नहीं कर लेता है और देवनागरी लिपि में हिंदी (हिंदी निबंध सहित) और अंग्रेजी (अंग्रेजी निबंध सहित) पेपर (अनिवार्य पेपर) में सभी लिखित पत्रों और प्रत्येक में न्यूनतम तैंतीस प्रतिशत (33%) अंकों का स्कोर नहीं प्राप्त कर लेता है ।
  • अंतिम चयन उम्मीदवारों द्वारा मुख्य लिखित परीक्षा और व्यक्तित्व परीक्षण/ मौखिक परीक्षा अर्थात् 675 अंकों में से प्राप्त कुल अंकों के आधार पर तैयार की जाने वाली योग्यता सूची के आधार पर होगा ।
  • यदि दो या दो से अधिक अभ्यर्थियों द्वारा प्राप्त मुख्य लिखित परीक्षा और व्यक्तित्व परीक्षण/ मौखिक परीक्षा के कुल अंक बराबर हैं, तो मुख्य लिखित परीक्षा के अनिवार्य प्रश्नपत्रों में उच्च अंक प्राप्त करने वाले उम्मीदवार को मेरिट में उच्च माना जाएगा ।
  • यदि ऐसे अभ्यर्थियों के अनिवार्य प्रश्नपत्रों के कुल अंक फिर भी समान रहते हैं तो आयु में अधिक आयु वाले अभ्यर्थी को योग्यता में अधिक माना जायेगा ।
  • उम्मीदवारों को मुख्य लिखित परीक्षा में केवल सतही ज्ञान के लिए अंक आवंटित नहीं किए जाएंगे।
  • परीक्षा के सभी विषयों में व्यवस्थित, प्रभावी और सटीक अभिव्यक्ति के साथ- साथ शब्दों के चयन को भी ध्यान में रखा जाएगा ।

अनिवार्य विषय

  1. अंग्रेजी और अंग्रेजी निबंध:

इस पेपर का उद्देश्य उम्मीदवार की गद्य को पढ़ने और समझने और व्यक्त (अपने विचार को स्पष्ट रूप से और सही ढंग से अंग्रेजी में) करने की गंभीर -विवेकपूर्ण क्षमता का परीक्षण करना है ।

प्रश्नों का पैटर्न इस प्रकार होगा:

अंग्रेज़ी

(i) संक्षेपण ।

(ii) दिए गए गद्यांशों की समझ ।

(iii) निबंध ।

(iv) उपयोग और शब्दावली ।

(v) सामान्य व्याकरण/संरचना ।

निबंध

  • उम्मीदवारों को एक विशिष्ट विषय पर निबंध लिखना होगा ।
  • विषयों का विकल्प दिया जाएगा ।
  • उनसेअपने विचारों को व्यवस्थित तरीके से रखने और संक्षेप में लिखने के लिए निबंध के विषय के करीब रहने (to the point) की अपेक्षा की जाती है ।
  • प्रभावी और सही अभिव्यक्ति को वरीयता दी जाएगी ।
  1. हिंदी और हिंदी निबंध: (देवनागरी लिपि में)

(i) अंग्रेजी पैसेज का हिंदी में अनुवाद ।

(ii) पत्र/सारांश लेखन ।

(iii) हिंदी गद्यांश (गद्य और पद्य) की एक ही भाषा में व्याख्या ।

(iv) रचना (मुहावरे, सुधार आदि) ।

(v) किसी विशिष्ट विषय पर निबंध । विषयों का विकल्प दिया जाएगा ।

  1. सामान्य अध्ययन:

सामान्य अध्ययन के पेपर में इस प्रकृति और मानक के प्रश्न होंगे जो एक सुशिक्षित व्यक्ति बिना किसी विशेष अध्ययन के हल कर सकेगा । प्रश्न ऐसे होंगे जो उम्मीदवार की सामान्य जागरूकता का परीक्षण करने के लिए होंगे और जिनकी सिविल सेवा में करियर के लिए प्रासंगिकता होगी ।

पार्ट1

(a) आधुनिक भारत और भारतीय संस्कृति का इतिहास : आधुनिक भारत का इतिहास, उन्नीसवीं के मध्य से देश के इतिहास को कवर करेगा और स्वतंत्रता आंदोलन और सामाजिक सुधार को आकार देने वाले महत्वपूर्ण व्यक्तित्वों पर प्रश्न भी शामिल होंगे । ‘भारतीय संस्कृति’ से संबंधित भाग में भारतीय संस्कृति के प्राचीन से आधुनिक काल तक के सभी पहलुओं को शामिल किया जाएगा ।

(b) भारत का भूगोल: इस भाग में, भारत के भौतिक, आर्थिक और सामाजिक भूगोल पर प्रश्न होंगे ।

(c) भारतीय राजनीति: इस भाग में भारत के संविधान, राजनीतिक व्यवस्था और संबंधित मामलों पर प्रश्न शामिल होंगे ।

(d) वर्तमान राष्ट्रीय मुद्दे और सामाजिक प्रासंगिकता के विषय : इस भाग का उद्देश्य वर्तमान राष्ट्रीय मुद्दों और सामाजिक विषयों के बारे में उम्मीदवार की जागरूकता का परीक्षण करना है । वर्तमान भारत में प्रासंगिकत, जैसे: जनसांख्यिकी और मानव संसाधन और संबंधित मुद्दों, व्यवहारिक और सामाजिक मुद्दे और सामाजिक कल्याण की समस्याएं, जैसे बाल श्रम, लिंग, समानता, वयस्क साक्षरता, विकलांगों का पुनर्वास और समाज के अन्य वंचित वर्ग,नशीली दवाओं का दुरुपयोग, सार्वजनिक स्वास्थ्य आदि, कानून प्रवर्तन के मुद्दे, मानव अधिकार, सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार,सांप्रदायिक सद्भाव आदि, आंतरिक सुरक्षा और संबंधित मुद्दे, पर्यावरणीय मुद्दे, पारिस्थितिक प्राकृतिक संसाधनों और राष्ट्रीय विरासत का संरक्षण, संरक्षण, राष्ट्रीय संस्थानों की भूमिका,उनकी प्रासंगिकता और परिवर्तन की आवश्यकता आदि पर प्रश्न होंगे ।

पार्ट2

(a) भारत और विश्व: इस भाग का उद्देश्य विभिन्न तरीकों से दुनिया के साथ भारत के संबंधों के बारे में उम्मीदवार की जागरूकता का परीक्षण करना है । इसमें शामिल होंगे : विदेश मामले, बाहरी सुरक्षा और संबंधित मामले, परमाणु नीति, विदेशों में भारतीय इत्यादि ।

(b) भारतीय अर्थव्यवस्था: इस भाग में प्रश्न भारत में योजना एवं आर्थिक विकास, आर्थिक एवं व्यापार, विदेशी व्यापार के मुद्दे, I.M.F की भूमिका और कार्य, विश्व बैंक, विश्व व्यापार संगठन इत्यादि पर होंगे ।

(c) अंतर्राष्ट्रीय मामले और संस्थान: इस भाग में विश्व मामलों और अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों में महत्वपूर्ण घटनाओं पर प्रश्न शामिल होंगे ।

(d) विज्ञान और प्रौद्योगिकी, संचार और अंतरिक्ष के क्षेत्र में विकास: इस भाग में, प्रश्न विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विकास के बारे में उम्मीदवार की जागरूकता तथा संचार और अंतरिक्ष और बुनियादी कंप्यूटर समझ का परीक्षण करेगा ।

(e) सांख्यिकीय विश्लेषण, रेखांकन और आरेख: इस भाग में उम्मीदवार की सामान्य ज्ञान निष्कर्ष निकालने की क्षमता, सांख्यिकीय, चित्रमय या आरेखीय रूप में प्रस्तुत की गई जानकारी,उसमें सीमाएं या विसंगतियां का परीक्षण करने के लिए अभ्यास शामिल होंगे ।

साक्षात्कार

  • मुख्य परीक्षा के बाद अंतिम चरण साक्षात्कार (interview) है जो 75 अंक का होता है ।
  • मुख्य लिखित परीक्षा में मेरिट के क्रम में विज्ञापित पदों की संख्या से तीन गुना उम्मीदवारों को व्यक्तित्व परीक्षण (interview) के लिए बुलाया जाता है ।
  • साक्षात्कार में सामान्य हित के मामलों पर प्रश्न पूछे जाते हैं ।
  • साक्षात्कार का उद्देश्य सक्षम और निष्पक्ष पर्यवेक्षकों के बोर्ड द्वारा सार्वजनिक सेवा में कैरियर के लिए उम्मीदवार की उपयुक्तता का आंकलन करना है ।
  • साक्षात्कार का उद्देश्य उम्मीदवार की मानसिक क्षमता का आंकलन करना है । यह वास्तव में न केवल उनके बौद्धिक गुणों बल्कि सामाजिक लक्षणों और समसामयिक मामलों में उनकी रुचि जांचना है ।
  • मानसिक सतर्कता, आत्मसात करने की महत्वपूर्ण शक्तियाँ, स्पष्ट और तार्किक व्याख्या, संतुलन या निर्णय, रुचि की विविधता और गहराई, सामाजिक सामंजस्य और नेतृत्व की क्षमता, बौद्धिक और नैतिक अखंडता इत्यादि ऐसे गुण हैं जो उम्मीदवारों से अपेक्षित होंगे ।
  • साक्षात्कार की तकनीक सख्त परीक्षा की नहीं है बल्कि एक स्वाभाविक और उद्देश्यपूर्ण बातचीत है जिसका उद्देश्य उम्मीदवार के मानसिक गुणों को प्रकट करना है ।
  • साक्षात्कार परीक्षण का उद्देश्य उम्मीदवारों के विशेष या सामान्य ज्ञान का परीक्षण नहीं है, जो पहले से ही उनके लिखित पत्रों के माध्यम से परीक्षण किया जा चुका है ।
  • उम्मीदवारों से अपेक्षा की जाती है कि वे न केवल अकादमिक अध्ययन के अपने विशेष विषयों में, बल्कि उन घटनाओं और साथ ही विचारों की आधुनिक धाराओं और नई दुनिया में भी रुचि लें, जो उनके अपने राज्य या देश के भीतर और बाहर हो रही हैं ।
  • अंतिम चयन मुख्य लिखित परीक्षा और पर्सनैलिटी टेस्ट में उम्मीदवारों द्वारा प्राप्त कुल अंकों के आधार पर तैयार की जाने वाली मेरिट सूची के आधार पर होगा।

हरियाणा सिविल सेवा परीक्षा में वैकल्पिक विषय

1.भारतीय इतिहास

2.अर्थशास्त्र

3.भूगोल

4.वाणिज्य और लेखा

5.कृषि

6.वनस्पति विज्ञान

7.रसायन विज्ञान

8.पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान

9.विद्युत इंजीनियरिंग

10.सिविल इंजीनियरिंग

11.मैकेनिकल इंजीनियरिंग

12.अंग्रेजी साहित्य

13.हिंदी साहित्य (देवनागरी लिपि में)

14.लोक प्रशासन

15.जंतु विज्ञान

16.सांख्यिकी

17.कानून

18.भौतिक विज्ञान

19.संस्कृत साहित्य

20.पंजाबी साहित्य

21.मनोविज्ञान

22.समाज शास्त्र

23.दर्शनशास्त्र

24.मेडिकल साइंस

25.प्रबंधन

26.गणित

27.भू-विज्ञान

28.एन्थ्रोपोलॉजी

29.राजनीति विज्ञान एवं अंतर्राष्ट्रीय संबंध

  • सिविल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और मैकेनिकल इंजीनियरिंग जैसे इंजीनियरिंग विषयों का चयन करते समय; उम्मीदवार अपनी मुख्य परीक्षा के लिए इनमें से एक से अधिक विषय नहीं चुन सकते हैं ।
  • निम्नलिखित संयोजनों के लिए भी यही लागू होता है- राजनीति विज्ञान और अंतर्राष्ट्रीय संबंध; राजनीति विज्ञान, अंतर्राष्ट्रीय संबंध और लोक प्रशासन; और कृषि, पशुपालन एवं पशु चिकित्सा विज्ञान

 

2599 

Add to wishlistAdded to wishlistRemoved from wishlist 12
Haryana Civil Service (HCS) Notes – HPSC Prelims Study Material +Current Affairs – Infusion Notes – 5 Books
Haryana Civil Service (HCS) Notes – HPSC Prelims Study Material +Current Affairs – Infusion Notes – 5 Books

2599 

Infusion Notes || Handwritten Notes & Study Material
Logo
×